PM मोदी बताएंगे इसके फायदे, कल दिल्ली के विज्ञान भवन से करेंगे संबोधित

Reading Time: 2 minutes

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कल यानी 12 दिसंबर को ‘ डिपॉजिटर्स फर्स्ट : गारंटी टाइम बाउंड डिपॉजिट इंश्योरेंस पेमेंट अपटू 5 लाख रुपए’ प्रोग्राम को संबोधित करेंगे। यह कार्यक्रम दिल्ली के विज्ञान भवन में दोपहर 12 बजे से होगा। कार्यक्रम में PM मोदी डिपॉजिट इंश्योरेंस क्रेडिट गारंटी कॉरपोरेशन (DICGC) एक्ट के तहत बैंक में जमा पर मिलने वाली 5 लाख रुपए की गारंटी के बारे में जानकारी देंगे। कार्यालय में केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण, वित्त राज्य मंत्री और RBI गवर्नर भी मौजूद रहेंगे।

पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव बैंक में फ्रॉड के बाद किया था ऐलान
वित्त मंत्री ने बजट में यह ऐलान पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव बैंक में हुए फ्रॉड के बाद किया था। इसके बाद यस बैंक भी वित्तीय संकट में फंस गया था। बैंक में रोज की निकासी पर लिमिट लगा दी गई थी।
DICGC रिजर्व बैंक की कंपनी है, जो हर डिपॉजिटर के सेविंग्स, करंट, रेकरिंग और फिक्स्ड डिपॉजिट (FD) एकाउंट में जमा 5 लाख रुपए को सुरक्षित रखती है। अगर कोई बैंक डिफॉल्ट हो जाता है तो उसके हर डिपॉजिटर को 5 लाख रुपए तक की रकम (मूल रकम और ब्याज) DICGC अदा करेगी।

क्रेडिट गारंटी स्कीम के तहत 1300 करोड़ का भुगतान किया
सरकार द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार 16 सहकारी बैंकों के ग्राहकों को क्रेडिट गारंटी स्कीम के तहत 1 लाख लोगों को कुल 1300 करोड़ रुपए का भुगतान किया जा चुका है। ये उन बैंकों के ग्राहक थे जिन पर RBI ने प्रतिबंध लगाया था।

देश के कुल अकाउंट्स में 98.1% इसमें कवर
सरकार द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार देश के कुल अकाउंट्स में से 98.1% क्रेडिट गारंटी स्कीम में कवर हैं, वहीं अगर दुनिया के लिहाज से बात की जाए तो ये 80% है। यानी हम इस मामले में दुनिया के औसत से आगे हैं।

बजट-2021 में बैंक कवर बढ़ाकर 5 लाख रुपए किया गया था
DICGC एक्ट में इस बदलाव को शामिल किए जाने पर डिपॉजिटर को बड़ी आसानी होगी, क्योंकि उन्हें तय समय में अपना 5 लाख रुपए तक का डिपॉजिट वापस मिल जाएगा। बैंक के फेल होने की सूरत में DICGC के कवर के हिसाब से डिपॉजिटर को उनका पैसा तय समय के भीतर आसानी से मिल जाएगा। बजट में ऐलान किया था कि बैंकों में जमा 5 लाख रुपए की रकम अब DICGC एक्ट के तहत सिक्योर्ड रहेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related

मंडी भाव: दिल्ली से इंदौर तक सरसों, मूंगफली, सोयाबीन तेल के भाव टूटे

Reading Time: 2 minutes विदेशी बाजारों में गिरावट के बीच देशभर के तेल-तिलहन बाजारों में बुधवार को सरसों, मूंगफली तेल-तिलहन और सोयाबीन तेल कीमतों में गिरावट रही, जबकि मांग होने से सोयाबीन तिलहन के भाव अपरिवर्तित रहे। बाकी तेल-तिलहन के भाव भी पूर्वस्तर पर बने रहे। मांग प्रभावित होने से सरसों तेल- तिलहन कीमतों में भी गिरावट देखी गई। […]

error: Content is protected !!
Designed and Developed by CodesGesture