UP TET: अब इस तारीख तक एग्‍जाम कराने की तैयारी, जल्‍द नए सिरे से जारी होंगे प्रवेश पत्र

Reading Time: 2 minutes

उत्तर प्रदेश में शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपी-टीईटी) के 13.52 लाख अभ्यर्थियों को नए सिरे प्रवेश पत्र जारी किए जाएंगे।  संभावना है कि परीक्षा नियंत्रक की वेबसाइट updeled.gov.in पर जल्‍द ही हॉल टिकट (UPTET Admit Card) जारी कर दिए जाएंगे। यूपीटेट की परीक्षा 28 नवम्‍बर को दो पालियों में आयोजित की गई थी। उस दिन पेपर लीक होने की वजह से परीक्षा रद्द करनी पड़ी थी। पहले कहा गया था कि दिसम्‍बर में ही दोबारा परीक्षा कराई जाएगी लेकिन अब बताया जा रहा है कि जनवरी के पहले या दूसरे हफ्ते में परीक्षा कराई जा सकेगी। 

पेपर लीक के कारण निरस्त उत्तर प्रदेश शिक्षक पात्रता परीक्षा (यूपी-टीईटी) 2021 को फिर से कराने के लिए परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। सूत्रों के अनुसार कुछ जिलों में परीक्षा केंद्र बदलने की तैयारी है। अभ्यर्थियों को नए सिरे से प्रवेश पत्र जारी होंगे। इस संबंध में मंगलवार को शासन में बैठक हुई थी, जिसमें सचिव अनिल भूषण चतुर्वेदी को भी बुलाया गया था। प्रश्नपत्र बनाने के लिए विषय विशेषज्ञों को बुलाने की तैयारी है।

बदल सकते हैं परीक्षा केंद्र

सूत्रों के अनुसार इस बार वित्तविहीन स्कूलों के स्थान पर राजकीय और सहायता प्राप्त माध्यमिक स्कूलों, सीबीएसई-सीआईएससीई के स्कूलों, डिग्री कॉलेजों और विश्वविद्यालयों को भी केंद्र बनाने के लिए कोशिशें की जा रही हैं। बहुत आवश्यकता पड़ने पर अच्छी छवि के वित्तविहीन स्कूलों को ही केंद्र बनाया जाएगा। इसके लिए जिला विद्यालय निरीक्षकों से भी वार्ता हो रही है, ताकि केंद्रों को बदलने में आने वाली कठिनाइयों को दूर किया जा सके। साथ ही प्रश्नपत्र निर्माण के लिए विषय विशेषज्ञों को भी बुलाने की तैयारी कर रहे हैं। परीक्षा के लिए त्रुटिहीन प्रश्नपत्र बनवाना सबसे बड़ी चुनौती है। क्योंकि परीक्षा के बाद सर्वाधिक विवाद प्रश्नों को ही लेकर होता है। हालांकि सहायता प्राप्त जूनियर हाईस्कूलों में सहायक अध्यापक के 1504 और प्रधानाध्यापकों के 390 पदों के लिए 17 अक्तूबर को आयोजित परीक्षा में प्रश्नों को लेकर खास विवाद नहीं हुआ था। इसलिए यूपी-टीईटी में भी ऐसे ही पेपर सेट करवाया जाएगा जिससे कोई विवाद न हो।

यूपी-टीईटी को दोबारा से एक महीने में कराना संभव नहीं है। हाल ही में बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी ने दिसंबर में दोबारा परीक्षा कराने की बात कही थी। लेकिन आयोजन से जुड़े लोगों का मानना है कि जनवरी के दूसरे सप्ताह के बाद ही परीक्षा हो सकती है।

36 लोगों की अभी तक हो चुकी है गिरफ्तारी

पेपर लीक मामले की जांच में जुटी एसटीएफ ने अभी तक 36 लोगों को इस मामले में गिरफ्तार किया है। लेकिन अभी तक वह व्यक्ति एसटीएफ के हत्थे नहीं चढ़ा है, जिसने यह पेपर लीक किया था और अभी तक यह भी पता नहीं लगाया जा सका है कि यह पेपर सबसे पहले कहां से लीक हुआ था। इसका पता लगाने के लिए एसटीएफ की टीमें लगातार संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही हैं। नोएडा, दिल्ली और कोलकाता के जिन प्रेस में यह पेपर छापे गये थे, उनके मालिक भी अभी तक नहीं पकड़े जा सके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related

अवसाद में हुई शिक्षामित्र की असमय मौत।

Reading Time: < 1 minute जौनपुर । आज दिनांक 16 दिसंबर 2021 को जनपद जौनपुर की धरती से एक शिक्षामित्र विभा चौहान ने अवसाद में आकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर लिया जो अपने पीछे दो पुत्रों को एवं पति को छोड़ गई ।    पहला पुत्र का नाम रिशु चौहान उम्र 15 वर्ष एवं दूसरे पुत्र का नाम अनुराग […]

विद्यार्थियों को दी गई विदाई।

Reading Time: < 1 minute चानमती एजुकेशनल एंड टीचर्स ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट गायत्रीनगर गोरखपुर के सेमिनार हॉल में डीएलएड और बीएड 2021-23 का स्वागत समारोह तथा डीएलएड 2019-21 के विदाई समारोह का संयुक्त रूप से आयोजन किया गया गोरखपुर । सर्वप्रथम संस्थान के प्रबंधक वीरेंद्र कुमार, प्राचार्य डॉ वीरेन्द्र कुमार राजभर एवं समस्त शिक्षकगण ने माँ सरस्वती के चरणों मे पुष्प […]

error: Content is protected !!
Designed and Developed by CodesGesture