लखीमपुर खीरी हिंसा: केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी को कोर्ट से बड़ी राहत, नहीं दर्ज होगा केस:

Reading Time: < 1 minute

लखीमपुर खीरी, 08 दिसंबर: लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा मामले में केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी को सीजेएम कोर्ट से बड़ी राहत मिल गई है। दरअसल, हिंसा के दौरान मारे गए पत्रकार रमन कश्यप के भाई ने कोर्ट में केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा समेत 14 लोगों के खिलाफ मुकदमा लिखने की मांग को लेकर सीआरपीसी की धारा 156(3) के तहत अर्जी डाली थी। सीजेएम कोर्ट ने इस मामले में तमाम जिरह सुनने के बाद याचिका खारिज कर दी है।

लखीमपुर खीरी के तिकुनिया में बीते 3 अक्टूबर को हुई हिंसा में चार किसानों और पत्रकार रमन कश्यप सहित आठ लोगों की मौत हो गई थी। पत्रकार रमन कश्यप के भाई ने कोर्ट में केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा समेत 14 लोगों के खिलाफ मुकदमा लिखने की मांग को लेकर अर्जी डाली थी। सीजेएम चिंताराम ने तिकुनिया कोतवाली से आख्या तलब करते हुए इस याचिका पर सुनवाई के लिए 15 नवंबर की तारीख दी थी। हालांकि, तिकुनिया पुलिस की आख्या न आने की वजह से 15 नवंबर को सुनवाई नहीं हो सकी। कोर्ट ने 25 नवंबर की अगली तारीख तय की। तिकुनिया पुलिस ने अपनी आख्या 25 नवंबर को सीजेएम कोर्ट के पास भेजा, जिस पर बहस के लिए पवन कश्यप के वकील ने समय मांग लिया था।

देर शाम कोर्ट ने सुनाया फैसला

इस पर कोर्ट ने सुनवाई के लिए 1 दिसंबर की तय की। इसी दिन अर्जी पर सुनवाई पूरी हो गई, लेकिन सीजेएम चिंताराम ने फैसला 6 दिसंबर तक के लिए सुरक्षित रख लिया था। हालांकि, 6 दिसंबर को भी फैसला नहीं सुनाया जा सका और सीजेएम कोर्ट ने आदेश के लिए 7 दिसंबर की तारीख तय की। सीजेएम चिंताराम ने मंगलवार देर शाम इस मामले में पत्रकार रमन कश्यप के भाई पवन कश्यप की अर्जी खारिज कर दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related

हिजाब तो एक बहाना है देश में नफरत फैलाना है क्योकि चार राज्यों में हो रहे हैं विधानसभा चुनाव।

Reading Time: 2 minutes कर्नाटक के उडुपी ज़िला के GOVT. PRE UNIVERSITY COLLEGE में इस बार  स्कूल खुलने के बाद, एग्जाम से लगभग 2 महीने पहले, मुस्लिम लड़कियों को हिजाब में आने से रोका गया, जिसमें बहुत बड़ी संख्या में दुष्ट भगवाधारी लोग एक मुस्लिम हिजाब पहने हुए लड़की के साथ स्कूल में बदतमीजी पर उतर आए। अरे जाहिलो, […]

पंचतत्व में विलीन हुईं लता मंगेशकर, मुंबई में राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार

Reading Time: < 1 minute पंडितों के मंत्र उच्चारण के बीच लता मंगेशकर को उनके भाई हृदयनाथ मंगेशकर ने मुखग्नि दी. लता मंगेशकर पंच तत्वों में विलीन हो चुकी है. उनके अंतिम समय में उनका परिवार उनके साथ रहा. अब बस उनकी यादें हमारे पास रह गई हैं. पीएम मोदी ने दुख व्यक्त कियाउनके निधन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने […]

error: Content is protected !!
Designed and Developed by CodesGesture