छह करोड़ रुपये का धान लेकर राइस मिलर लापता

Reading Time: 3 minutes

सहजनवां में धान घोटाला

सहजनवां (गोरखपुर)। सहजनवां ब्लॉक का एक राइस मिलर करीब छह करोड़ रुपये का सरकारी धान लेकर लापता है। बताया जा रहा है कि विभिन्न एजेंसियों द्वारा खरीदे गए धान को मिलर को कूट कर चावल अलग करने के लिए दिया गया था। अब मिल में ताला लगा हुआ है और सरकारी धान भी गायब है। हालांकि अधिकारी अभी इस बारे में कुछ भी कहने से बच रहे हैं।

जानकारी के मुताबिक किसानों से खरीदे गए धान को कूट कर चावल बनाने के लिए विभिन्न मिलिंग कंपनियों का चयन किया जाता है। चयन के बाद इन कंपनियों को कूटने के लिए धान आवंटित किया जाता है। सरकारी एजेंसियां लिए बाकायदा मिल की स्थिति, मिलिंग क्षमता, मिलर की आर्थिक स्थिति आदि का सत्यापन करती है। सत्यापन के बाद ही मिलर को धान आवंटित किया जाता है। मिलर को कितना धान दिया गया, उसमें से निकलने वाले चावल, भूसी की अनुमानित मात्रा भी दर्ज की जाती है। मिलर निर्धारित समय सीमा में धान कूट कर चावल भारतीय खाद्य निगम को सौंपता है। इलाके में चर्चा है कि पीसीएफ की ओर से सहजनवां ब्लॉक क्षेत्र स्थित एक मिलर को करीब छह करोड़ रुपये कीमत का धान कूटने के लिए दिया गया था। निर्धारित समय बीतने के बाद भी मिलर ने पीसीएफ को चावल का एक दाना भी नहीं दिया।

चर्चा है कि जब विभाग के अधिकारियों ने मिलर से संपर्क साधने का प्रयास किया तो पता चला कि मालिक कंपनी बंद कर कहीं चला गया है। सकते में आए अधिकारियों ने आनन- फानन धान या कुटा हुआ चावल कब्जे में लेने की कवायद शुरू की लेकिन कुछ भी हाथ नहीं लगा। मिल में धान या चावल भी नहीं मिला। धोखाधड़ी की आशंका होने पर अब अधिकारी मिलर के खिलाफ

विभिन्न एजेंसियों द्वारा खरीदे गए धान को मिलर को कूट कर चावल अलग करने के लिए दिया गया था, अब मिल में ताला लगा हुआ है

एफआईआर दर्ज कराने की तैयारी कर रहे हैं। सूत्रों के अनुसार विभागीय अधिकारियों ने मिलर के खिलाफ स्थानीय थाने में तहरीर दी है, हालांकि अधिकारी इसकी पुष्टि नहीं कर रहे हैं। थानाध्यक्ष सहजनवा राज प्रकाश सिंह ने बताया कि पीसीएफ के अधिकारी ने तहरीर दी है मामले की जांच की जा रही है। पीसीएफ जिला प्रबंधक सोमनाथ ने बताया कि मिलर के भागने का मामला संज्ञान में आया है विभागीय जांच की जा रही है। जांच के आधार पर ही आगे की कार्रवाई की दिशा तय की जाएगी। आरएफसी डिप्टी आरएमओ राकेश मोहन पांडेय ने बताया कि विभागीय मुकदमे के सिलसिले में उच्च न्यायालय आया हुआ हूं. मामले की जानकारी नहीं है। गोरखपुर पहुंच कर मातहतों से इस संबंध में आख्या मांगूंगा। आख्या मिलने के बाद ही कुछ बता सकूगा।

धान गबन में मिल संचालक समेत छह पर मुकदमा दर्ज

गोरखपुर। प्रादेशिक कोऑपरेटिव फेडरेशन (पीसीएफ) के जिला प्रबंधक शोभनाथ गौड़ ने जेडास राइस मिल के संचालक ध्रुव नारायण, उनके भाई अजीत कुमार, परिवार की दो महिला सदस्यों सहित छह लोगों के खिलाफ सहजनवां थाने में केस दर्ज कराया है। इन पर करीब छह करोड़ रुपये का धान हड़पने, साजिश रचने सहित अन्य आरोप लगाए गए हैं। पीसीएफ जिला प्रबंधक शोभनाथ गौड़ के अनुसार पाली ब्लॉक के लखनापाल गांव निवासी व नारायण सिंह की जेडास राइस मिल को करीब छह करोड़ रुपये कीमत का धान कूट कर चावल निकालने के लिए आवंटित किया गया था। निर्धारित समय सीमा बीतने के बाद जब चावल और भूसी लेने के लिए मिलर से संपर्क किया गया तो फैक्टरी बद पाई गई, फैक्टरी के गोदाम भी खाली थे। संचालक ध्रुव नारायण लखनापाल स्थित आवास पर नहीं मिले और न ही परिवार के अन्य सदस्य ही मिले। गांव वालों से जानकारी मिली कि संचालक ध्रुव नारायण फरार हैं। उन्होंने आला अधिकारियों को मामले की जानकारी दी। अधिकारियों के निर्देश पर जिला प्रबंधक ने ध्रुव नारायण, उनके भाई अजीत कुमार, परिवार की दो महिला सदस्यों सहित छह लोगों के खिलाफ धोखाघड़ी और गबन का केस दर्ज कराया। एसएचओ सहजनवां राज प्रताप सिंह ने बताया कि पीसीएफ जिला प्रबंधक शोभनाथ गौड़ की तहरीर पर जेडास राइस मिल संचालक सहित छह लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में केस दर्ज कर आरोपितों की तलाश शुरू कर दी गई है। आरोपितों की गिरफ्तारी के बाद मामले की परतें खुलेंगी। पीसीएफ सूत्रों के मुताबिक दो साल पहले भी इसी तरह की धोखाधड़ी हुई थी। तब पूर्वी सहजनवा तहसील क्षेत्र के गीडा सेक्टर 13 स्थित स्वास्तिक मिलर के खिलाफ धोखाघडी का केस दर्ज कराया गया था। जांच में स्वास्तिक मिलर दोषी पाया गया था और उसके खिलाफ आरसी जारी की गई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related

‘अग्निपथ योजना’ के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन जारी, बिहार में ट्रेन के कोच में लगाई गई आग

Reading Time: 2 minutes सेना भर्ती के नए नियम (अग्नीपथ) के विरोध में जगह-जगह युवकों का प्रदर्शन जारी है. इसी क्रम में यूपी के अलीगढ़-ग़ाज़ियाबाद NH-91 के सोमना मोड़ पर प्रदर्शकारियों द्वारा सवारियों से भरी रोडवेज के बस में तोड़फोड़ की गई है. युवा नेशनल हाइवे जामकर प्रदर्शन कर रहे हैं. एनएच के अलावे पीएसी रामघाट रोड, गभाना थाना […]

सिद्धू मूसे वाला मर्डर केस में पहली गिरफ्तारी, पंजाब पुलिस ने आरोपी को 5 दिन की रिमांड पर लिया

Reading Time: < 1 minute मामले में  मनप्रीत नाम के शख्स को गिरफ्तार किया गया, उसे कल उत्तराखंड से पकड़ा गया था. मनप्रीत को आज कोर्ट में पेश किया गया जहां से उसे 5 दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया. नई दिल्‍ली बहुचर्चित मर्डर केस में पहली गिरफ्तारी हुई है. पंजाब पुलिस ने इस मामले में मनप्रीत नाम के […]

error: Content is protected !!
Designed and Developed by CodesGesture